Ad Code

काली मूसली के फायदे | Kali Musli Ke Fayde

काली मूसली के फायदे | Kali Musli Ke Fayde

आयुर्वेद के अनुसार मूसली दो प्रकार की होती हैं - काली मूसली और सफेद मूसली। ये दोनों ही औषधियाँ अनेकों बीमारियों को दूर करने के गुण रखती हैं। काली मूसली का मुख्यरूप से प्रयोग यौन शक्ति बढ़ाने और शारीरिक कमजोरी दूर करने में किया जाता हैं। काली मूसली की तासीर गर्म होती है और यह वात-पित्त को कम करने वाली और कफ को बढ़ाने वाली होती है। इसके प्रयोग से शारीरिक कमजोरी दूर होती है, यौन शक्ति बढ़ती है साथ ही थकान, तनाव पाइल्स जैसे बीमारियों में भी इसके लाभ प्राप्त होते हैं।

 काली मूसली के फायदे | Kali Musli Ke Fayde


यौनशक्ति बढ़ाने में काली मूसली के फायदे: वर्तमान समय में काम के दबाव, तनाव के कारण, सही आहार ना मिलने के कारण लोगों में शारीरिक कमजोरी आ रही है जिससे उनका पारिवारिक जीवन भी प्रभावित हो रहा हैं। अधिकतर युवाओं में शारीरिक कमजोरी होना आम बात हैं जिससे उनकी यौन शक्ति भी कमजोर होने लगती हैं। इस समस्या को दूर करने का अच्छा तरीका है काली मूसली का नियमित प्रयोग किया जाये। काली मूसली के नियमित प्रयोग से ना केवल उनकी शारीरिक कमजोरी दूर होगी साथ ही उनकी यौनशक्ति भी बढ़ेगी।


शीघ्रपतन रोकने में काली मूसली के फायदे: शीघ्रपतन होना युवाओं की एक आम समस्या है। अधिकतर लोग अपने पार्टनर के साथ ज्यादा समय तक टिक नहीं पाते है और उनका शीघ्रपतन हो जाता है, जिससे उनके बीच मन-मुटाव और लड़ाई-झगड़े की स्थिति बनती है और कई बार उनका रिश्ता भी टूट जाता है। शीघ्रपतन रोकने में काली मूसली बहुत लाभदायक होती है इसके नियमित सेवन से शीघ्रपतन की समस्या हमेशा के लिए दूर हो जाती हैं।

शुक्राणुओं की संख्या और गुणवत्ता में काली मूसली के फायदे: वर्तमान समय में जंक फ़ूड का अधिक प्रयोग, अधिक समय तक बैठकर कार्य करना, तनाव आदि की बजह से शारीरिक कमजोरी आना आम बात है। जिसका असर ना केवल यौनशक्ति पर पड़ता है साथ ही शुक्राणुओं की संख्या और गुणवत्ता में भी गिरावट आती है। शुक्राणुओं की संख्या और गुणवत्ता में गिरावट आने से  बच्चे के जन्म में समस्या आती है या वें बच्चे को जन्म ही नहीं दे पाते है। काली मूसली के नियमित सेवन से शुक्राणुओं की संख्या बढ़ती है और गुणवत्ता में भी सुधार होता है जिससे पुरुष आसानी से स्त्री को गर्भवती कर सकता है।

किडनी के दर्द में काली मूसली के फायदे: किडनी में यदि दर्द होता है तो काली मूसली का सेवन करना चाहिए। काली मूसली के सेवन से किडनी के दर्द से आराम मिलता हैं।

➤ दमा होने पर भी काली मूसली का सेवन करना चाहिए इससे दमा में आराम मिलता हैं।

➤ चेहरे पर मुँहासे होने पर काली मूसली की जड़ का पेस्ट बनाकर लगाना चाहिए इससे मुँहासे जल्द ठीक होते हैं।

यह भी पढ़े:-

गिलोय के फायदे
वाइट मूसली के फायदे
शिलाजीत के फायदे
एलोवेरा के फायदे
अश्वगंधा पाउडर के फायदे

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Ad Code