मोटापा कम करने का योगा | Motapa Kam Karne Ke Liye Yoga

मोटापा कम करने का योगा | Motapa Kam Karne Ke Liye Yoga

मोटापा कम करने का योगा | Motapa Kam Karne Ke Liye Yoga


आज के समय में हम जिस तरह का जीवन जी रहे है उसमें हमारे पास समय की कमी है। समय की कमी की वजह से हम अपने स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं देते है साथ ही जंक फ़ूड, कॉफी, चाय, नशीले पदार्थों का भी सेवन करते है जिससे हमारा वजन बहुत बढ़ जाता है।


हमारा वजन बढ़ जाने पर हमे अपने दैनिक कार्यों को करने में भी परेशानी का सामना करना पड़ता है।


ज्यादा वजन बढ़ जाने पर ना केवल हमें परेशानियों का सामना करना होता है साथ ही हमारे स्वास्थ्य पर भी इसका विपरीत प्रभाव पड़ता है।


इसलिए हमारे लिए यह बहुत जरुरी होता है कि हम अपने वेट को कण्ट्रोल करें।



अपने वजन को कम करने के लिए कई लोग दवाईयों का सेवन करते है जिससे कुछ लाभ तो होता है साथ ही इसके कुछ साइड इफेक्ट भी देखने को मिलते है। इसलिए अपने वजन को कम करने के लिए योग करना सबसे अच्छा होता है। योग करने के लिए हमें घर से भी बाहर नहीं जाना पड़ता है। आप अपने घर पर रहकर भी योग कर सकते है और योग का लाभ लें सकते है।


यहां पर हम आपको कुछ योगासन बता रहे है जो आपको मोटापा कम करने में बहुत मदद करेंगे।


(1) मोटापा कम करने का योगा ताड़ासन

मोटापा कम करने का योगा ताड़ासन


ताड़ासन करने में बहुत ही सरल होता है। इसे करने के लिए आपको साँस लेते हुए अपने शरीर को ऊपर की तरफ खींचना होता है। ताड़ासन करने से शरीर की सभी मांसपेशियों में खिंचाव आता है जिससे शरीर में जमी चर्बी कम होना शुरू हो जाती है और वजन कम होता है। आपको वजन कम करने के लिए नियमित रूप से 12 से 15 बार ताड़ासन का अभ्यास करना चाहिए।


यह भी पढ़ें: पैर की ऐड़ी में दर्द होने पर क्या करें?


(2) मोटापा कम करने का योगा पादहस्तासन

मोटापा कम करने का योगा पादहस्तासन


पादहस्तासन भी करने में बहुत सरल होता है। इसे करने के लिए सीधे खड़े होकर सामने की तरफ झुका जाता है और अपने हाथों से अपने पैरों को छूने का प्रयास किया जाता है। पादहस्तासन करने से भी हमारे शरीर की मांसपेशियों में खिंचाव आता है जिससे शरीर में जमी चर्बी कम होती है। पादहस्तासन करने से पेट, कमर, हिप, जांघों में जमी चर्बी कम होती है।


(3) मोटापा कम करने का योगा पश्चिमोत्तनासन

मोटापा कम करने का योगा पश्चिमोत्तनासन


पश्चिमोत्तनासन बैठकर किया जाता है। इसे करने के लिए अपनी कमर और पैरों को सीधा रखा जाता है और अपने हाथों से पैरों को छुआ जाता है। पश्चिमोत्तनासन करने से पेट, पीठ, कमर, जांघों, पैरों की मांसपेशियों में खिंचाव आता है जिससे वजन कम होता है। वजन कम करने के लिए आपको नियमित रूप से 12 से 15 बार पश्चिमोत्तनासन का अभ्यास करना चाहिए।


(4) मोटापा कम करने का योगा चक्रासन

मोटापा कम करने का योगा चक्रासन


चक्रासन करने में थोड़ा कठिन होता है। इसे करने के लिए पीठ के बल लेटकर अपने हाथों और पैरों के बल खड़े होते है। चक्रासन करते समय हमारे पेट, कमर, पीठ, जांघों, पैरों और हाथों की मांसपेशियों में खिंचाव आता है जिससे चर्बी कम होती है और हमारा वजन कम होता है। वजन कम करने के लिए आपको चक्रासन का 3 से 5 मिनट अभ्यास करना चाहिए। यदि आप एक बार में 5 मिनट अभ्यास नहीं कर सकते तो आपको 1-1 मिनट करके अभ्यास करना चाहिए।


(5) मोटापा कम करने का योगा धनुरासन

मोटापा कम करने का योगा धनुरासन


धनुरासन पेट के बल लेटकर किया जाता है। इसे करने के लिए अपने हाथों से पैरों के पंजों को पकड़कर शरीर को खींचा जाता है जिससे पेट, छाती, हाथ , पैर, कमर की मांसपेशियों पर खिंचाव आता है और जमी चर्बी कम होती है। वजन कम करने के लिए धनुरासन का अभ्यास 3 से 5 मिनट करना चाहिए।


(6) मोटापा कम करने का योगा भुजंगासन

मोटापा कम करने का योगा भुजंगासन


भुजंगासन पेट के बल लेटकर किया जाता है। इसे करने से ना केवल हमारा वजन कम होता है साथ ही इससे हमें कई लाभ होते है। भुजंगासन करने से हमारे फेफड़े व दिल मजबूत होते है, स्वसन तंत्र ठीक से कार्य करता है, हाथ और पैर की मांसपेशियाँ मजबूत होती है, रीढ़ की हडडी मजबूत बनती है और हमारा मन एकाग्र रहता है।


(7) मोटापा कम करने का योगा उष्ट्रासन

मोटापा कम करने का योगा उष्ट्रासन


मोटापा कम करने के लिए उष्ट्रासन योग भी अच्छा होता है। उष्ट्रासन घुटनों के बल बैठकर किया जाता है। उष्ट्रासन करने के लिए अपने घुटनों पर बैठकर हाथों से पैरों के पंजों को पकड़ले और पीछे झुकने का प्रयास करें। उष्ट्रासन करने से दिल व फेफड़े मजबूत बनते है, कमर दर्द से राहत मिलती है, रीढ़ की हड्डी मजबूत बनती है और पाचन तंत्र भी ठीक से कार्य करता है।


यह भी पढ़ें: सर्वांगासन करने का सही समय क्या होता है?


(8) मोटापा कम करने का योगा बालासन

मोटापा कम करने का योगा बालासन


बालासन करने में बहुत ही सरल होता है और इससे हमें कई सारे लाभ प्राप्त होते है। बालासन करने के लिए अपने पैरों के पंजों पर बैठ जाये जैसे वज्रासन में बैठा जाता है। अब गहरी साँस लेते हुए अपने हाथों को ऊपर करे और साँस छोड़ते हुए अपनी कमर को सामने झुकाना शुरू करें। अपने माथे को जमीन से लगा लें और अपने हाथों को सामने सीधा रख लें। इसे करने से मोटापा कम होता है साथ ही पाचन तंत्र मजबूत होता है, चेहरे के सौंदर्य में बृद्धि होती है और मानसिक शांति प्राप्त होती है।


(9) मोटापा कम करने का योगा सर्वांगासन

मोटापा कम करने का योगा सर्वांगासन


सर्वांगासन करने से शरीर के सभी अंगों को लाभ होता है इसी कारण इसे सर्वांगासन कहाँ जाता है। इसे करने के लिए अपने कंधों के बल खड़े होकर पैरों को सीधा ऊपर उठाया जाता है। इसे करने से मोटापा कम होता है साथ ही शरीर लंबी उम्र तक जवान बना रहता है।


(10) मोटापा कम करने के लिए योगा शवासन

मोटापा कम करने के लिए योगा शवासन


शवासन योग के अंत में शरीर को आराम देने के लिए किया जाता है। इसे करने से शरीर को आराम मिलने के साथ ही कई लाभ भी प्राप्त होते है। शवासन करने से मानसिक शांति प्राप्त होती है, जिन्हें अनिद्रा की परेशानी है उनके लिए भी यह लाभदायक है, जिन्हें कमर, गर्दन, जोड़ों में दर्द होता है उन्हें भी इससे लाभ होता है साथ ही वजन भी नियंत्रण में रहता है।


आमतौर पर पूछे जाने वाले सवाल और उनके जवाब



(1) मोटापा कम करने के लिए कौन सी योग करें?


मोटापा कम करने के लिए आपको ताड़ासन, पश्चिमोत्तनासन, पादहस्तासन, चक्रासन, दंडासन, बालासन, भुजंगासन, सर्वांगासन, शवासन और सूर्य नमस्कार का अभ्यास करना चाहिए।


यह भी पढ़ें:-

भस्त्रिका और कपालभाति प्राणायाम में क्या अंतर होता है?

सुबह योग करने से हमें क्या लाभ प्राप्त होते है?

अनुलोम विलोम प्राणायाम करने से हमें क्या लाभ मिलते है?

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ