Ad Code

पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए योग | Best Yoga For Digestion And Gas

पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए योग | Best Yoga For Digestion And Gas

पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए योग | Best Yoga For Digestion And Gas


पाचन का हमारे स्वास्थ्य पर सीधा प्रभाव पड़ता है। जो भोजन हम करते हैं वह पाचन के माध्यम से ही ऊर्जा में परिवर्तित होता है और हमारे शरीर को ऊर्जा मिलती है। पाचन की प्रक्रिया हमारे मुंह से शुरू होती है और फिर पेट और इसके बाद आंतों तक पहुंचती है। यदि आपका पाचन ठीक नहीं रहता है तो एसिडिटी, कब्ज, पेट में दर्द, गैस, गैस से पेट फूलना जैसी समस्याएं आपको हो सकती हैं।

हमारी लाइफ स्टाइल और डाइट हमारे पाचन को सीधे तौर पर प्रभावित करते हैं। साथ ही कुछ बुरी आदतें जैसे कि धूम्रपान करना, अत्यधिक तनाव लेना यह भी हमारे पाचन प्रक्रिया को बिगाड़ देते हैं। यदि हम अपनी लाइफस्टाइल और डाइट में सुधार करें और नियमित रूप से योग अभ्यास करें तो हम अपने मेटाबॉलिज्म को बढ़ा सकते हैं और अपने पाचन को सुधार सकते हैं।

हम आपको यहां पर कुछ योगासन बता रहे हैं जिनका नियमित अभ्यास आपके पाचन को सुधारने में बहुत मदद करेगा।

(1) पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए वज्रासन करना चाहिए


पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए वज्रासन करना चाहिए

आमतौर पर ऐसा माना जाता है कि खाना खाने के तुरंत बाद योगाभ्यास नहीं करना चाहिए लेकिन वज्रासन एकमात्र ऐसा आसन है जिसे आप खाना खाने के तुरंत बाद भी कर सकते हैं। पाचन तंत्र से संबंधित समस्याओं को दूर करने के लिए वज्रासन विशेष रूप से लाभदायक साबित होता है। जिन लोगों को कब्ज, गैस, खट्टी डकार आना, खाना खाने के बाद पेट में भारीपन महसूस होना, सुबह पेट ठीक से साफ ना होना, गैस से पेट फूलना यह परेशानियां होती हैं उन्हें वज्रासन का अभ्यास जरूर करना चाहिए।

(2) पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए पवनमुक्तासन करना चाहिए


पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए पवनमुक्तासन करना चाहिए

पवनमुक्तासन पेट की बीमारियां और गैस को दूर करने में लाभदायक होता है। इसके अभ्यास से पाचन में सुधार होता है और पेट की गैस बाहर निकल जाती है जिससे पाचन तंत्र ठीक से कार्य करता है। पवनमुक्तासन करने से पेट की मांसपेशियां भी मजबूत बनती है और पाचन से जुड़ी समस्याएं जैसे कि गैस, कब्ज, अपच, खट्टी डकार, सुबह समय पर पेट साफ ना होना इनमें भी लाभ मिलता है।

(3) पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए बालासन करना चाहिए


पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए बालासन करना चाहिए

बालासन को चाइल्ड पोज भी कहा जाता है। इसका अभ्यास करने से मन शांत रहता है और हमारी एकाग्रता बढ़ती है। बालासन पेट से जुड़ी समस्याओं को भी दूर करने में लाभदायक साबित होता है। इसका नियमित अभ्यास करने से पाचन शक्ति मजबूत होती है और पाचन से जुड़ी परेशानियां नहीं रहती।

यह भी पढ़े: तितली आसन करने से कौन से लाभ होते है?

(4) पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए भुजंगासन करना चाहिए


पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए भुजंगासन करना चाहिए

भुजंगासन को कोबरा पोज के नाम से भी जाना जाता है। भुजंगासन का अभ्यास करने से पेट की मांसपेशियां मजबूत होती हैं और पाचन शक्ति बढ़ती है जिससे पाचन से जुड़ी परेशानियां दूर होती हैं। यदि आपको खट्टी डकार आती हैं, खाना खाने के बाद पेट में भारीपन महसूस होता है, सुबह पेट साफ होने में समय लगता है, गैस अत्यधिक बनती है ऐसी स्थिति में आपको भुजंगासन का अभ्यास जरूर करना चाहिए।

(5) पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए सेतुबंधासन का अभ्यास करना चाहिए


पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए सेतुबंधासन का अभ्यास करना चाहिए

सेतुबंधासन करते समय पाचन तंत्र से जुड़े अंगों पर खिंचाव पड़ता है जिससे ब्लड सरकुलेशन बढ़ जाता है जो पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है और पाचन तंत्र की कार्यप्रणाली में सुधार लाता है। सेतुबंधासन करने से मेटाबॉलिस्म तेज हो जाता है और हमारी आंतों के कार्य में भी सुधार होता है जिससे कब्ज की परेशानी नहीं होती और हमारे खराब पाचन में सुधार होता है।

(6) पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए शवासन करना चाहिए


पाचन तंत्र मजबूत करने के लिए शवासन करना चाहिए

शवासन एक ऐसा योगासन है जो योगाभ्यास के अंत में किया जाता है। इसको करने से हमारा मन शांत रहता है। ऐसा माना जाता है कि हमारे मन और पाचन तंत्र का एक-दूसरे से संबंध होता है। यदि हमारा मन शांत रहता है तो हमारा पाचन भी अच्छा रहता है। जो लोग ज्यादा तनाव महसूस करते हैं उनका पाचन भी कमजोर पाया जाता है। शवासन करने से हमारा मन शांत रहता है जिससे तनाव की परेशानी दूर होती है और हमारा पाचन तंत्र ठीक से कार्य करता रहता है।

आमतौर पर पूछे जाने वाले सवाल और उनके जवाब


(1) कमजोर पाचन तंत्र को मजबूत कैसे करें?


कमजोर पाचन तंत्र को मजबूत करने के लिए आपको यह उपाय करने चाहिए-

(a) नियमित रूप से योगाभ्यास करना चाहिए।
(b) खाने में हरी पत्तेदार सब्जियां, फल, अंकुरित अनाज को शामिल करें।
(c) फास्ट फूड को जितना हो सके कम से कम खाने का प्रयास करें।
(d) खाना खाने के तुरंत बाद लेटना या बैठना नहीं चाहिए बल्कि 1000 कदम चलने का प्रयास करें।
(e) रात में गरिष्ठ भोजन करने से बचें।
(f) खाना खाने के आधे घंटे पहले और आधा घंटे बाद तक पानी ना पिए।

यह भी पढ़े: महिलाओं को पेट कम करने के लिए क्या करना चाहिए?

(2) पाचन क्रिया के लिए क्या खाना चाहिए?


पाचन क्रिया को बेहतर बनाने के लिए इन चीजों को खाना चाहिए-

(a) दही- दही पाचन तंत्र के लिए अच्छा माना जाता है। दही में अच्छे बैक्टीरिया होते हैं जो पाचन में मदद करते हैं इसलिए नियमित रूप से लंच या डिनर में आधा या एक कटोरी दही जरूर खाना चाहिए।

(b) पपीता- पपीता पाचन सुधारने में मदद करता है। पपीते में विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। पपीता खाने से शरीर में मौजूद हानिकारक टॉक्सिन बाहर निकल जाते हैं। इसके सेवन से अपच, कब्ज जैसी परेशानी भी नहीं होती।

(c) अंकुरित अनाज- अंकुरित अनाज में बहुत से पोषक तत्व पाए जाते हैं जो हमारे पाचन को सुधारने के साथ ही हमें ऊर्जा भी प्रदान करते हैं।

(d) सेब- सेब पाचन के लिए फायदेमंद होता है। सेब में विटामिन, मिनरल्स, फाइबर भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो पाचन में सुधार करते हैं और अच्छे बैक्टीरिया को बढ़ाते हैं इसीलिए अपनी डाइट में सेब को जरूर शामिल करना चाहिए।

(3) पाचन तंत्र को मजबूत करने के लिए कौन सा फल खाएं?


पाचन तंत्र को मजबूत करने के लिए यह फल खाए जा सकते हैं-

(a) केले- केले में हाई फाइबर पाया जाता है जो पाचन तंत्र को मजबूत करता है।

(b) अमरूद- अमरूद सर्दियों के मौसम में आने वाला फल है जो पेट की कई समस्याओं को ठीक कर सकता है। अमरुद में डाइटरी फाइबर अच्छी मात्रा में पाया जाता है जो पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है।

(c) सेब- सेब पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करने में मदद करता है। सेब में पेक्टिन नामक फाइबर पाया जाता है जो कब्ज और दस्त जैसी परेशानियों को दूर करता है। सेब खाने से शरीर में मौजूद विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं जिससे पाचन शक्ति में सुधार होता है।

(4) कौन सा फल खाने से पेट साफ होता है?


पेट साफ करने के लिए आपको केले, सेब, पपीता, संतरा, नाशपाती, अमरूद, कीवी, आलू बुखारा इन फलों का सेवन करना चाहिए। इन फलों में अच्छी मात्रा में फाइबर, विटामिन, मिनरल्स पाए जाते हैं जो हमारे पाचन तंत्र को मजबूत बनाते हैं। जब हमारा पाचन तंत्र ठीक से कार्य करता है तो हमारा पेट भी ठीक से साफ होता है।

(5) कौन सा फल खाने से गैस नहीं बनती है?


केले खाने से पेट में गैस नहीं बनती है। केले में विटामिन, प्रोटीन, मिनरल्स, फाइबर अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं जो पाचन को ठीक रखते हैं जिससे गैस बनने की परेशानी दूर होती है।

यह भी पढ़े:-
रीढ़ की हड्ड़ी की जकड़न कैसे दूर करें?
अनुलोम विलोम प्राणायाम करने का सही तरीका क्या है?
ताड़ासन करने से क्या लाभ होता है?

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Ad Code